share market kya hai

share market kya hai :हेल्लो दोस्तों आशा की आप सब ठीक होंगे आज मैं इस पोस्ट में आपके लिए लेकर आया हूँ की share market kya है क्या आपको पता है की शेयर मार्केट में हम क्या खरीदते हैं और बेचते है

चलो हम जानते है की शेयर बाज़ार क्या है

What is share market in hindi ||शेयर बाज़ार क्या होता है

शेयर मार्किट और स्टॉक मार्किट एक ही होता है दोस्तों पैसा कमाना कितना जरुरी है ये तो हम सब को पता है लेकिन पैसे को सही जगह इन्वेस्ट करना उतना ही जरुरी है पैसा कितना जरुरी होता है

पैसा का होना सपने पुरे करने के लिए जरुरी है शेयर मार्किट में दो टाइप से हम पैसा लगा सकते है या तो ट्रेडिंग करके या फिर लॉन्ग टर्म इन्वेस्टमेंट करके शेयर बाज़ार में ट्रेडिंग दो टाइप की होती है एक intraday ट्रेडिंग और एक swing trading . Intraday ट्रेडिंग में हम शेयर एक ही दिन में खरीदते और बेच देते है बाकी swing ट्रेडिंग में हम शेयर एक दिन खरीते है और उससे कुछ टाइम पीरियड तक होल्ड करते है और फिर बाद में बेच देते है

Shares क्या होता है

सबसे पहले ये जान ले की शेयर्स क्या होता है शेयर का मतलब है हिस्सा जब भी आप कोई शेयर खरीदते हो तो उसका मतलब ये है की आप कंपनी के छोटे से हिस्से में भाग ले रहे हो इससे आप सोच सकते हो की आप कंपनी में छोटे से पार्टनर बन गये हो

Sharemarket में पैसा कैसे लगाये

शेयर मार्किट में पैसा लगाने के लिए आपको सबसे पहले demat अकाउंट खुलवाना होगा demat अकाउंट एक बैंक की तरह होता जहाँ पर हमारे खरीदे हुए शेयर रखे जाते है आप demat अकाउंट किसी broker के यहाँ खुला सकते है बहुत सारे broker है सबसे अच्छा broker zerodha broker है ये एक डिस्काउंट broker है इसके ब्रोकेरिंग चार्जेज भी बहुत कम है

Stock Exchange क्या है

शेयर मार्किट में शेयर को खरीदना और बेचना स्टॉक एक्सचेंज में होता है इंडिया में 2 बहुत जाने माने स्टॉक एक्सचेंज है एक बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज(bse) और दूसरा नेशनल स्टॉक एक्सचेंज(nse).

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में जो टॉप की 30 कम्पनीज होती है वो आती है और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में टॉप की 50 कम्पनीज आती है

सेंसेक्स क्या है BSE (सेंसेक्स 30 )Companies

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में टॉप 30 companies आती है इस एक्सचेंज में एक बेंचमार्क आता है जिससे सेंसेक्स कहते है उससे हमे मार्किट की मूवमेंट का पता चलता है की मार्किट किस तरफ जा रही है बढ़ रही है या गिर रही है ये सब सेंसेक्स बताता है

icci bank ntpcaxis bankkotak bank hdfc
infosystata steel sunpharmamaruti reliance
hdfc bank m & mpower grid tech mahindraitc
hcl tech asian paintsongc bajaj finservindusind bank
bharti airtel titan company l and tbajaj autontpc
sbinestle hulultra macotcs

Nifty क्या है NSE (निफ्टी 50) Companies

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में टॉप 50 companies आती है इस एक्सचेंज में एक बेंचमार्क आता है जिससे निफ्टी 50 कहते है उससे हमे मार्किट की मूवमेंट का पता चलता है की मार्किट किस तरफ जा रही है बढ़ रही है या गिर रही है ये सब सेंसेक्स बताता है ये बेंचमार्क सेंसेक्स जैसा ही है

coal india techmsun pharmahdfc tata motors hulpower gridbajaj autohero motocoitc
hdfc bank ntpcaxis bankdivis labtata consumersshree cemuplultramacrobharti airteldr reddy
eicher bankhdfclifejsw steelbajaj finservkotak bankinfyadani ports ltgrasimSBIIN
icici banktitan asian bankindus banksbi lifebpclreliance m & mwiproCipla
nestle indtata steeltcshindal cohcl techcoal indiabajajfinace britanniamarutiONGC

Support Level क्या होता है शेयर मार्किट में

support level हम उसे कहते है जहाँ पर सेलर का selling प्रेशर कम हो जाता है और buyers हावी होने लग जाते है और मार्किट support लेवल से ऊपर उठने लग जाती है

Resistance Level क्या होता है शेयर मार्किट में

resistance level हम उसे कहते हैं जहाँ पर buyer का buying कम हो जाती और seller की selling ज्यादा हो जाती सेलर्स ज्यादा हावी होने लग जाते है और price ऊपर नही बढता नीचे गिरने लग जाता है उसे resistance कहते हैं

Share Market में ट्रेडिंग कैसे करे

  • सबसे पहले आपको demat अकाउंट खुलवाना होगा और उसे भी पहले आपको रिसर्च करना होना technical analysis और fundamental analysis सीखना होगा
  • demat अकाउंट के खुलवाने के बाद आपको खुद की रिसर्च करनी होगी
  • किसी टिप्स के भरोसे मत बैठना और न्यूज़ में जो स्टॉक recommend करते है उनको आँख बंद करके ट्रेड मत कर लेना
  • आपको अपने इमोशन को कण्ट्रोल करना सीखना होगा
  • जो लोग स्टॉक टिप्स के भरोसे बैठे रहते है वो लोस करते है मार्किट में
  • आपको अपना लॉन्ग टर्म गोअल बनाना होगा
  • अपने रिस्क टॉलरेंस को समजना होगा की आप कितना रिस्क ले सकते है आपका रिस्क to रिवॉर्ड ratio हमेसा 1 :2 होना चाहिए
  • स्टॉप लोस लगा ही ट्रेडिंग करनी चाहिए

शेयर मार्किट कब बढता है और गिरता है

अगर डिमांड ज्यादा होती है सप्लाई से मतलब अगर buyers ज्यादा होते है sellers से तो मार्किट ऊपर बढती है वरना मार्किट नीचे गिरती है अगर selling प्रेशर ज्यादा हुआ तो मार्किट फिर गिरने लगती है.

Conclusion

आशा है आपको मेरा यह पोस्ट जरुर पसंद आया होगा इसमें मैंने अपनी तरफ से पूरी जानकारी देने की कोशिश की है अगर कुछ पूछना हो तो इस contact पर पूछ सकते है

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *